Work with politeness

by 23:00 0 comments
जीवित रहने के लिए हमें कार्य तो करना ही पड़ता है, किन्तु सफलता और सम्मान अर्जित करने के लिए 'विनम्रता के साथ कार्य' करना अनिवार्य शर्त है।
- मिथिलेश 'अनभिज्ञ'


Jivit rahne ke liye hame kary to karna hi padta hai, kintu safalta aur samman arjit karne ke liye vinamrata ke saath kary karna anivarya shart hai.
- mithilesh 'anbhigya'
Work with politeness

Mithilesh singh

Author, Journalist, Entrepreneur

मिथिलेश पिछले 6 साल से वेबसाइट, सोशल मीडिया के क्षेत्र में अपनी सेवायें दे रहे हैं। एक कलमकार के तौर पर लेख, कहानी, कविता इत्यादि विधाओं में निरंतर लेखन और समाज, परिवार के प्रति संवेदनशील विचार-मंथन उनकी प्रवृत्ति है। विभिन्न अख़बारों, पत्रिकाओं के संपादक-मंडल में अलग-अलग समय पर शामिल रहे हैं तो तकनीक के माध्यम को वह आज की लेखन दुनिया के लिए आवश्यक मानते हुए ब्लॉगिंग, सोशल मीडिया इत्यादि क्षेत्रों से साम्य बनाने में जुटे रहते हैं।

0 comments:

Post a Comment