Relations quotes in hindi, professionalism and expectation

by 14:58 0 comments
मिथिलेश के लेख  ||  "समाचार" ||  न्यूज वेबसाइट बनवाएं.सूक्तियाँ | छपे लेख | गैजेट्स | प्रोफाइल-कैलेण्डर

वगैर रिश्तों के दुनिया में इंसान चल नहीं सकता है, किन्तु रिश्तों में 'प्रोफेसनलिज्म' के वगैर दरार और टूटन आ ही जाती है तो सिर्फ 'निजी स्वार्थ' साधने वालों का अकेला होना भी उतना ही निश्चित हो जाता है. 
- मिथिलेश 'अनभिज्ञ'

Vagair rishto ke duniya me insan chal nahi sakta hai, kintu rishto me professionalism ke vagair darar aur tootan aa hi jaati hai, to sirf niji swarth saadhne walo ka akela hona bhi utna hi nishchit ho jaata hai.
- mithilesh anbhigya
Relations quotes in hindi, professionalism and expectation

Mithilesh singh

Author, Journalist, Entrepreneur

मिथिलेश पिछले 6 साल से वेबसाइट, सोशल मीडिया के क्षेत्र में अपनी सेवायें दे रहे हैं। एक कलमकार के तौर पर लेख, कहानी, कविता इत्यादि विधाओं में निरंतर लेखन और समाज, परिवार के प्रति संवेदनशील विचार-मंथन उनकी प्रवृत्ति है। विभिन्न अख़बारों, पत्रिकाओं के संपादक-मंडल में अलग-अलग समय पर शामिल रहे हैं तो तकनीक के माध्यम को वह आज की लेखन दुनिया के लिए आवश्यक मानते हुए ब्लॉगिंग, सोशल मीडिया इत्यादि क्षेत्रों से साम्य बनाने में जुटे रहते हैं।

0 comments:

Post a Comment