Kritagyata aur kritaghanta, Gratitude and attitude

by 23:14 0 comments
कृतज्ञता और कृतघ्नता का निर्णय कर सकने योग्य क्षमता विकसित कर लेना 'व्यवहारिकता' का एक बड़ा पहलू है।
- मिथिलेश 'अनभिज्ञ'

Kritagyata aur kritaghnta ka nirnay kar sakne yogya kshamta viksit kar lena vyawahaarikta ka ek bada pahlu hai.
- Mithilesh 'anbhigya'
Kritagyata aur kritaghanta, Gratitude and attitude

Mithilesh singh

Author, Journalist, Entrepreneur

मिथिलेश पिछले 6 साल से वेबसाइट, सोशल मीडिया के क्षेत्र में अपनी सेवायें दे रहे हैं। एक कलमकार के तौर पर लेख, कहानी, कविता इत्यादि विधाओं में निरंतर लेखन और समाज, परिवार के प्रति संवेदनशील विचार-मंथन उनकी प्रवृत्ति है। विभिन्न अख़बारों, पत्रिकाओं के संपादक-मंडल में अलग-अलग समय पर शामिल रहे हैं तो तकनीक के माध्यम को वह आज की लेखन दुनिया के लिए आवश्यक मानते हुए ब्लॉगिंग, सोशल मीडिया इत्यादि क्षेत्रों से साम्य बनाने में जुटे रहते हैं।

0 comments:

Post a Comment