Practical ground and Intelligent

by 23:12 0 comments
विभिन्न विकल्पों को सुनना, समझना और सन्तुलित करना 'व्यवहारिकता' है, तो इनके आधार पर बेहतर निर्णय कर सकने की स्व-क्षमता ही 'बुद्धिमता' है।
-मिथिलेश 'अनभिज्ञ'

Vibhinn vikalpon ko sunna, samajhna aur santoolit karna vyawahaarikta hai, to inke aadhar par behtar nirnay kar sakne ki sw kshamta hi buddimata hai.
- Mithilesh 'anbhigya'
Practical ground and Intelligent

Mithilesh singh

Author, Journalist, Entrepreneur

मिथिलेश पिछले 6 साल से वेबसाइट, सोशल मीडिया के क्षेत्र में अपनी सेवायें दे रहे हैं। एक कलमकार के तौर पर लेख, कहानी, कविता इत्यादि विधाओं में निरंतर लेखन और समाज, परिवार के प्रति संवेदनशील विचार-मंथन उनकी प्रवृत्ति है। विभिन्न अख़बारों, पत्रिकाओं के संपादक-मंडल में अलग-अलग समय पर शामिल रहे हैं तो तकनीक के माध्यम को वह आज की लेखन दुनिया के लिए आवश्यक मानते हुए ब्लॉगिंग, सोशल मीडिया इत्यादि क्षेत्रों से साम्य बनाने में जुटे रहते हैं।

0 comments:

Post a Comment