Life is live, shayri, hindi quotes

by 23:38 0 comments
पूछा बड़े अंदाज से उसने बेवजह मुस्कराने की वजह मुझसे,
इतना मैंने भी कह दिया कि ज़िंदा होने का जश्न रोज मनाता हूँ।
- मिथिलेश 'अनभिज्ञ'

Puchha bade andaj se usne bewajah muskarane ki wajah mujhse,
itna maine bhi kah diya ki zinda hone ka jashn roj manata hoo.

Life is live, shayri, hindi quotes

Mithilesh singh

Author, Journalist, Entrepreneur

मिथिलेश पिछले 6 साल से वेबसाइट, सोशल मीडिया के क्षेत्र में अपनी सेवायें दे रहे हैं। एक कलमकार के तौर पर लेख, कहानी, कविता इत्यादि विधाओं में निरंतर लेखन और समाज, परिवार के प्रति संवेदनशील विचार-मंथन उनकी प्रवृत्ति है। विभिन्न अख़बारों, पत्रिकाओं के संपादक-मंडल में अलग-अलग समय पर शामिल रहे हैं तो तकनीक के माध्यम को वह आज की लेखन दुनिया के लिए आवश्यक मानते हुए ब्लॉगिंग, सोशल मीडिया इत्यादि क्षेत्रों से साम्य बनाने में जुटे रहते हैं।

0 comments:

Post a Comment