भाग्य और मेहनत - Fortune and work

by 20:58 0 comments
चाहो तो आप अपनी साइकिल के पंचर होने की बात या किसी मित्र की मोटरसाइकिल द्वारा लिफ्ट मिलने की बात को किस्मत मान लो! लेकिन, यह कभी-कभार ही घटित होती है और मुख्य बात यही है कि आपको साइकिल चलानी ही पड़ती है.
- मिथिलेश 'अनभिज्ञ'

Then you talk to your bicycle puncture or by a friend's motorcycle to lift the fortunes of getting it! However, this rarely happens and the main thing is that you have to run the service.
- Mithilesh 'Anbhigya'

भाग्य, मेहनत, Fortune, work, karm hi pooja hai, work is worship

मिथिलेश के लेख  ||  "समाचार" ||  न्यूज वेबसाइट बनवाएं.सूक्तियाँ | छपे लेख | गैजेट्स | प्रोफाइल-कैलेण्डर

Mithilesh singh

Author, Journalist, Entrepreneur

मिथिलेश पिछले 6 साल से वेबसाइट, सोशल मीडिया के क्षेत्र में अपनी सेवायें दे रहे हैं। एक कलमकार के तौर पर लेख, कहानी, कविता इत्यादि विधाओं में निरंतर लेखन और समाज, परिवार के प्रति संवेदनशील विचार-मंथन उनकी प्रवृत्ति है। विभिन्न अख़बारों, पत्रिकाओं के संपादक-मंडल में अलग-अलग समय पर शामिल रहे हैं तो तकनीक के माध्यम को वह आज की लेखन दुनिया के लिए आवश्यक मानते हुए ब्लॉगिंग, सोशल मीडिया इत्यादि क्षेत्रों से साम्य बनाने में जुटे रहते हैं।

0 comments:

Post a Comment