Having courage to accept and speak truth, keep struggling

by 17:13 0 comments
Having courage to accept and speak truth, keep struggling

जब तक आप गलत को गलत और सही को सही सोचने, कहने की हिम्मत नहीं जुटा पाते, तब तक आप 'संघर्ष' करना सीख नहीं सकते। और संघर्ष के बिना जीवन जिया नहीं जा सकता।
- मिथिलेश 'अनभिज्ञ'

Having courage to accept and speak truth, keep struggling

Mithilesh singh

Author, Journalist, Entrepreneur

मिथिलेश पिछले 6 साल से वेबसाइट, सोशल मीडिया के क्षेत्र में अपनी सेवायें दे रहे हैं। एक कलमकार के तौर पर लेख, कहानी, कविता इत्यादि विधाओं में निरंतर लेखन और समाज, परिवार के प्रति संवेदनशील विचार-मंथन उनकी प्रवृत्ति है। विभिन्न अख़बारों, पत्रिकाओं के संपादक-मंडल में अलग-अलग समय पर शामिल रहे हैं तो तकनीक के माध्यम को वह आज की लेखन दुनिया के लिए आवश्यक मानते हुए ब्लॉगिंग, सोशल मीडिया इत्यादि क्षेत्रों से साम्य बनाने में जुटे रहते हैं।

0 comments:

Post a Comment